पुत्रैषणा त्यागें, अपना पिंडदान जीते जी स्वयं करें

माता पिता को अपने पुत्र के लिए बड़ी चिन्ता रहती है, परन्तु पुत्रैषणा के साथ ही अनेक वासनाएँ भी आती

Read more

संकल्प का ऐतिहासिक अवलोकन

संकल्प में कल्प शब्द परमेष्ठी के अहोरात्र से जुड़ा है। ४ अरब ३२ करोड़ का एक कल्प होताहै। “”शर्वरी तस्य

Read more

माँ की नौ शक्तियाँ ही हैं उनके नौ रूप

🔔🔱 जय माता दी जी 🔔🔱 *माता शैल पुत्री* या देवी सर्वभूतेषु माँ शैलपुत्री रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो

Read more

जीवन का अंधकार और प्रकाश

एक कहानी बचपन में पढ़ी थी कि एक बार अंधकार, भगवान के पास शिकायत करने गया कि जब भी मैं

Read more

जानें ग्रहण का क्या होगा आप पर प्रभाव, क्या करें दान

खगोलीय दृ्ष्टि से जब सूर्य पर चंद्रमा की छाया पड़ती है तब सूर्य ग्रहण लगता है। आगामी २१ जून को

Read more

मौला अली रटने वाले बाबाओं का सच

मोरारी जैसे क़थवाचकों की कौन सी वोट बैंक की विवशता है? हिंदू समाज में ही ऐसे लोग क्यों पैदा होते

Read more

सीता माता और घास का तिनका

रामायण में एक घास के तिनके का भी रहस्य है, जो हर किसी को नहीं मालूम क्योंकि आज तक हमने

Read more

मोक्ष कैसे होता है ?

“मोक्ष कैसे होता है ?” उत्तर — सारी ईच्छाओं से पिण्ड छूट जाने पर । पहले तामसिक ईच्छाओं से,फिर राजसिक

Read more

अधिक पूजा पाठ करने वाले अधिक दुखी क्यों?

हमे मिलने वाले सुख या दुख का कारण भगवान नही अपितु हम ही हैं। हमारे कर्म ही हमें सुख दुख

Read more